SAIL to set up additional 2500 beds with use of gaseous oxygen facilities

Sarkaritel
By Sarkaritel May 1, 2021 16:52


New Delhi, 01st May, 2021: Responding to the call of Prime Minister, Narendra Modi and under the guidance of Shri Dharmendra Pradhan, Hon’ble Union Minister of P & NG and Steel, Steel Authority of India Limited (SAIL) is planning to set up jumbo medical facilities of about 2500 beds with the support of gaseous oxygen (GOX)  for Covid treatment in addition to the facilities currently available at SAIL’s five integrated steel plants at Bhilai (Chattisgarh), Bokaro (Jharkhand), Rourkela (Odisha), Durgapur and Burnpur (West Bengal).

These jumbo facilities are being planned outside the existing hospital facilities and shall have oxygen support through a dedicated gas line drawn directly from the steel plants instead of extracting gaseous oxygen from liquid medical oxygen as is being done in the own hospitals of SAIL currently. At the suggestion of Government of India, SAIL shall  use Gaseous Oxygen directly as an additional source of oxygen as the demand for liquid medical oxygen is high currently.

These 2500 nos. of beds will be developed in phased manner in collaboration with the respective state governments. In the first phase, the company will set up about 700 beds which will be scaled up to 2500 beds across all the five locations.

Currently, there are around 3000 beds in the five SAIL hospitals and about 45% of beds have been earmarked for COVID patients.

The company remains committed to stand by the nation in fighting against the corona pandemic in every possible way.


गैसियस ऑक्सीजन सुविधा के उपयोग से लैस 2500 अतिरिक्त बेड स्थापित करेगा सेल

नई दिल्ली, 01 मई , 2021:  माननीय प्रधान मंत्री, श्री नरेंद्र मोदी के आह्वान और माननीय पेट्रोलियम व् प्राकृतिक गैस तथा इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान के मार्गदर्शन में, स्टील अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया लिमिटेड (सेल) कोविड उपचार के लिए गैसियस ऑक्सीजन (जी ओ एक्स ) की सुविधा से लैस 2500  बिस्तरों वाली व्यापक चिकित्सा सुविधा स्थापित करने की योजना बना रहा है।  यह सुविधा सेल के पांच एकीकृत स्टील प्लांटों – भिलाई (छत्तीसगढ़), राउरकेला (ओडिशा), बोकारो (झारखण्ड), दुर्गापुर तथा बर्नपुर (पश्चिम बंगाल) में उपलब्ध वर्तमान सुविधा के अतिरिक्त होगी।

इन व्यापक सुविधाओं को सेल अस्पतालों की मौजूदा सुविधाओं के बाहर बनाने की योजना है। साथ ही इन नयी सुविधाओं में तरल चिकित्सकीय ऑक्सीजन से गैसियस ऑक्सीजन निकालने के बजाय, जैसा कि अभी सेल के अस्पतालों में हो रहा है, ऑक्सीजन इस्तेमाल के लिए स्टील प्लांटों से सीधे एक समर्पित गैस लाइन ऑक्सीजन सप्पोर्ट के लिए होगी ।  भारत सरकार के सुझाव पर, सेल ऑक्सीजन  के अतिरिक्त स्रोत के रूप में सीधे गैसियस  ऑक्सीजन का इस्तेमाल करेगा क्योंकि वर्तमान में तरल चिकित्सा ऑक्सीजन की मांग बहुत अधिक है।

इन 2500 बिस्तरों को  चरणबद्ध तरीके से सम्बंधित राज्य सरकारों के साथ मिलकर विकसित किया जायेगा।   पहले चरण में कंपनी लगभा 700 बिस्तरों की सुविधा कायम करेगी जिनको सभी पांचो जगहों कुल 2500 तक बढ़ाया जायेगा।

वर्तमान में सेल के पांच अस्पतालों में लगभग 3000 बिस्तर हैं और लगभग 45 % बिस्तर कोविड रोगियों के लिए रखे गए हैं।

इस महामारी के खिलाफ लड़ने के लिए कंपनी हर तरीके से राष्ट्र के साथ प्रतिबद्ध है।

Sarkaritel
By Sarkaritel May 1, 2021 16:52