REC Limited closes US$75million SOFR linked Term Loan with Sumitomo Mitsui Banking Corporation (SMBC)

Sarkaritel
By Sarkaritel October 20, 2021 15:39

REC Limited closes US$75million SOFR linked Term Loan with Sumitomo Mitsui Banking Corporation (SMBC)


Gurugram, 20th October 2021: In a first for any NBFC in India, REC Limited has successfully raised a USD 75 million, 5-year Secured Overnight Financing Rate (“SOFR”) linked Syndicated Term Loan on October 7, 2021, with Sumitomo Mitsui Banking Corporation (SMBC), Singapore Branch appointed as the sole Mandated Lead Arranger and Bookrunner. Along with the loan, REC has also entered into interest rate swap referencing SOFR to hedge the interest rate risk on this facility, which is the first such deal by any Corporate in India.

The proceeds from this facility shall be utilized to fund infrastructure power sector projects as permitted under the ECB guidelines of the Reserve Bank of India.

Commenting on the successful closure of the USD Term Loan, Mr. Sanjay Malhotra, Chairman and Managing Director of REC, said, “With the imminent cessation of LIBOR and following the notification from the Reserve Bank of India on roadmap for LIBOR Transition, we are very happy to raise this SOFR linked Term Loan Facility, which is also the first one by any NBFC in India. The experience gained from the process will enable REC in USD LIBOR transition to SOFR for our existing term loans in a better manner.”

SMBC’s Managing Executive Officer and Deputy Head, Asia Pacific Division, Mr. Rajeev Kannan commented, “We are pleased to partner with REC for our first SOFR linked ECB facility in India and for providing the solutions for interest rate risk management. As a leading player in the syndicated loans and ECB market, SMBC is committed to working with Indian PSUs and corporates using the new interest rate benchmarks.”


आरईसी लिमिटेड ने सुमितोमो मित्सुई बैंकिंग कॉरपोरेशन (एसएमबीसी) से 75 मिलियन अमेरिकी डॉलर का एसओएफआर लिंक्ड टर्म लोन जुटाया  

 

गुरुग्राम, 20 अक्टूबर, 2021 : आरईसी लिमिटेड ने 7 अक्टूबर, 2021 को, एकमात्र अधिदेशित लीड अरेंजर और बुकरनर के रूप में नियुक्त सुमितोमो मित्सुई बैंकिंग कॉरपोरेशन (एसएमबीसी), सिंगापुर शाखा से सफलतापूर्वक 75 मिलियन अमरीकी डालर का पाँच वर्षीय सेक्योर्ड ओवरनाइट फाइनेंसिंग रेट (“एसओएफआर”) लिंक्ड सिंडिकेटेड टर्म लोन जुटाया है, जो भारत की किसी  एनबीएफसी द्वारा पहली बार किया गया है। लोन के साथ-साथ, आरईसी ने इस सुविधा पर ब्याज दर जोखिम को कम करने के लिए एसओएफआर को संदर्भित करते हुए ब्याज दर स्वैप में भी प्रवेश किया है, जो भारत में किसी भी कॉर्पोरेट द्वारा की गई इस तरह की पहली डील है।

इस सुविधा से प्राप्त आय का उपयोग भारतीय रिज़र्व बैंक के बाह्य वाणिज्यिक उधार संबंधी दिशा-निर्देशों के तहत अनुमत विद्युत क्षेत्र की बुनियादी परियोजनाओं के वित्तपोषण के लिए किया जाएगा।

यूएसडी टर्म लोन के सफल क्लोजर पर टिप्पणी करते हुए, आरईसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, श्री संजय मल्होत्रा ने कहा कि, “एलआईबीओआर की आसन्न समाप्ति के साथ और एलआईबीओआर ट्रांजिशन के रोडमैप पर भारतीय रिजर्व बैंक की अधिसूचना के बाद, एसओएफआर से जुड़ी इस टर्म लोन सुविधा को जुटाकर हमें बेहद खुशी हो रही है, यह कार्य भारत की किसी भी एनबीएफसी  द्वारा पहली बार किया गया है। इस कार्य से प्राप्त अनुभव से आरईसी अपने मौजूदा टर्म लोन को बेहतर तरीके से यूएसडी एलआईबीओआर से एसओएफआर में परिवर्तित करने में सफल हो सकेगा।

एसएमबीसी के मैनेजिंग एक्जीक्यूटिव ऑफिसर और एशिया पैसिफिक डिवीजन के डेप्युटी हेड, श्री राजीव कन्नन ने कहा कि, “भारत में अपनी पहली एसओएफआर लिंक्ड ईसीबी सुविधा और ब्याज दर जोखिम प्रबंधन हेतु समाधान प्रदान करने के लिए आरईसी के साथ साझेदारी करके करके हम खुश हैं। सिंडिकेटेड ऋण और ईसीबी बाजार में एक अग्रणी संस्था के रूप में, एसएमबीसी नए ब्याज दर बेंचमार्क का उपयोग करके भारतीय सार्वजनिक उपक्रमों और कॉरपोरेट संस्थाओं के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध है।”

Sarkaritel
By Sarkaritel October 20, 2021 15:39