Portal of Oil PSUs to promote Aatmanirbhar Bharat

Sarkaritel
By Sarkaritel October 14, 2020 21:50


14th October 2020, New Delhi: Inspired by the vision of the Honorable Prime Minister for an Aatmanirbhar Bharat, a reliable and scalable portal has been envisaged for all Oil Companies. Based on the theme “Delivering excellence through people”, this initiative, taken under the guidance of Honorable Minister of Petroleum & Natural Gas and Steel Sri Dharmendra Pradhan, aims to highlight the Capital goods requirement of Oil & Gas majors besides the items related to Maintenance, Repair, and Overhaul (MRO).

As a Make in India initiative, this web-based-portal will provide opportunities to new entrepreneurs and existing manufacturers to invest and expand their manufacturing base in India. This portal shall also provide real-time data, along with visual indicators in the form of graphs and charts, to facilitate decision making for the apex management and other stakeholders.

To achieve this objective, a special Taskforce, under the leadership of Secretary, MoP&NG, has been formed. This Taskforce comprises of the Chairpersons of various Oil & Gas PSUs (like Indian Oil, EIL, ONGC, GAIL, BPCL, HPCL) and Private Refiners. Engineers India Limited will be leading the development of this portal from concept to commissioning under the guidance of this task force.

The development of the portal is being monitored and reviewed regularly by the Honorable Minister of Petroleum & Natural Gas and Steel. During one such review meeting, held in the morning today, the Minister advised “The proposed portal should provide information on procurements made from Micro/Small Enterprises or from SC/ST/Women entrepreneurs”. He further emphasized “The need to develop the portal on a war footing basis to further the cause of a self-reliant India”.

“Our main purpose is to make our contractors dream big and contribute towards an AtmaNirbhar Bharat”, said Mr. Tarun Kapoor, Secretary, MoP&NG, during a separate webinar for Contractors of Oil & Gas PSUs held today. The Webinar highlighted the features of a dedicated Web Portal for the Vendors.

Under the aegis of the Ministry of Petroleum & Natural Gas, Oil PSUs are regularly holding digital Vendor Meetings with the core theme of Localization. More such Vendor Meets shall be held in the coming months. This Oil PSUs-initiative that goes ‘Vocal for Local’ will open up a plethora of opportunities for the community of Indian suppliers.


आत्मनिर्भर भारत को बढ़ावा देने के लिए तेल सार्वजनिक उपक्रमों का पोर्टल

थीम: लोगों के माध्यम से उत्कृष्टता प्रदान करना

14 अक्टूबर 2020, नई दिल्ली: माननीय प्रधान मंत्री के ‘आत्म भारत’ के दृष्टिकोण से प्रेरित, यह विश्वसनीय और स्केलेबल पोर्टल सभी तेल कंपनियों के लिए परिकल्पित किया गया है। यह पहल “लोगों के माध्यम से उत्कृष्टता देने” विषय पर आधारित है, जिसे पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के मार्गदर्शन में लिया गया है।  इसका उद्देश्य रखरखाव , मरम्मत, और ओवरहाल (एमआरओ) से संबंधित वस्तुओं के अलावा तेल और गैस की बड़ी वस्तुओं की पूंजीगत आवश्यकता को महत्व देना है।

‘मेक इन इंडिया’ पहल के रूप में, यह वेब-आधारित पोर्टल नए उद्यमियों और मौजूदा निर्माताओं को भारत में अपने विनिर्माण आधार का निवेश और विस्तार करने के अवसर प्रदान करेगा। यह पोर्टल शीर्ष प्रबंधन और अन्य हितधारकों के लिए निर्णय लेने की सुविधा के लिए ग्राफ और चार्ट के रूप में दृश्य संकेतक के साथ वास्तविक समय डेटा भी प्रदान करेगा ।

इस उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए, एक विशेष कार्यबल, सचिव, पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस मंत्रालय के नेतृत्व में गठित किया गया है। इस कार्यबल में विभिन्न तेल और गैस सार्वजनिक उपक्रमों (जैसे इंडियन ऑयल, ई आई एल, ओ एन जी सी, गेल, बी पी सी एल, एच पी सी एल) और निजी रिफाइनर के अध्यक्ष शामिल हैं। इंजीनियर्स इंडिया लिमिटेड इस टास्क फोर्स के मार्गदर्शन में अवधारणा से लेकर कमीशन तक इस पोर्टल के विकास का नेतृत्व करेगा।

माननीय मंत्री पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस और इस्पात द्वारा नियमित रूप से पोर्टल के विकास की निगरानी और समीक्षा की जा रही है । इस तरह की एक समीक्षा बैठक के दौरान, आज सुबह मंत्री ने सलाह दी कि “प्रस्तावित पोर्टल को माइक्रो / स्मॉल एंटरप्राइजेज से या एस सी / एस टी / महिला उद्यमियों से की गई खरीद की जानकारी देनी चाहिए।” उन्होंने आगे “आत्मनिर्भर भारत के उद्देश्य को आगे बढ़ाने के लिए युद्धस्तर पर पोर्टल विकसित करने की आवश्यकता” पर जोर दिया।

श्री तरुण कपूर, सचिव,ने  तेल और गैस सार्वजनिक उपक्रमों के ठेकेदारों को एक अलग वेबिनार के दौरान संबोधित करते हुए  कहा कि, “हमारा मुख्य उद्देश्य हमारे ठेकेदारों के सपनों को बड़ा बनाना और एक आत्मनिर्भर भारत में योगदान करना है।” वेबिनार में  विक्रेताओं के लिए एक समर्पित वेब पोर्टल की विशेषताओं पर प्रकाश डाला ।

पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के तत्वावधान में, तेल पी एस यू नियमित रूप से स्थानीयकरण के मूल विषय के साथ डिजिटल विक्रेता बैठकें आयोजित कर रहे हैं ।  इस तरह के और अधिक विक्रेता मीट  आने वाले महीनों में आयोजित किए जाएंगे । यह तेल पी एस यू-पहल जो ‘वोकल फॉर लोकल’ कही जाती है, भारतीय आपूर्तिकर्ताओं के समुदाय के लिए और अधिक अवसर  खोलेगी।

Sarkaritel
By Sarkaritel October 14, 2020 21:50