NHPC contributes Rs. 1 Crore to International Solar Alliance Corpus Fund

Sarkaritel
By Sarkaritel June 10, 2020 18:21

NHPC contributes Rs. 1 Crore to International Solar Alliance Corpus Fund


NHPC, India’s hydropower major, which has diversified its portfolio to include Solar Power business has contributed an amount of Rupees One Crore to International Solar Alliance-Corpus Fund as part of first installment. NHPC is eyeing on becoming Corporate Member of the ISA to avail the benefits of its membership. NHPC’s membership will open up collaborative opportunities with World Bank, ADB, AIIB, EIB, EBRD, AfDB, NDB and GCF (ISA’s financial partners) as syndicate/ consortium to fund infrastructure Projects. NHPC will also have access to low cost fund from solar bonds to be raised by ISA knowledge partners such as London Stock Exchange among others, who are ISA’s sub-sovereign partners.

The membership will give NHPC new financing opportunities in emerging markets of ISA Member Countries and ISA will facilitate its entry into the markets in Member Countries.  Becoming a Corporate Member of the ISA, would pave way for NHPC to mark its presence in other countries in near future. NHPC will also be joining the “Annual Conclave of ISA Corporate Partners” and get an opportunity to shape the ISA policies, programs, activities and functions that could further or supplement or align with its own policies.

The bank advice of contribution was presented to Shri Upendra Tripathy, IAS, Director General, International Solar Alliance by Shri R.K. Jaiswal, Executive Director (Renewable Energy), NHPC on 10th June 2020 at New Delhi.  Shri Himangshu Saha, General Manager (Renewable Energy), NHPC and Shri K.S. Popli, Senior Consultant, ISA were also present on the occasion.

NHPC has already ventured in Renewable Energy Sector with commissioned capacity of 100 MW and is all set to develop new renewable energy projects to the tune of 7500 MW in coming two to three years. NHPC recently conducted successful e-auction for 2000 MW of Solar Projects. Out of this, NHPC has issued Letter of Awards (LOA) to Solar Power Developers for interstate transmission system (ISTS) grid connected photovoltaic projects aggregating to 1600 MW installed capacity.


एनएचपीसी ने इंटरनेशनल सोलर एलायंस कॉर्पस फ़ंड में करोड़ रूपए का योगदान दिया  

एनएचपीसीभारत की अग्रणी जलविद्युत कंपनी, जिसने सौर ऊर्जा व्यवसाय को शामिल करते हुए अपने पोर्टफोलियो में विविधीकरण किया है, ने इंटरनेशनल सोलर एलायंस (आईएसए) कॉर्पस फ़ंड  में पहली किश्त के रूप में एक करोड़ रूपए की राशि का योगदान दिया है। एनएचपीसी आईएसए का कॉर्पोरेट सदस्य बनने का विचार कर रहा है ताकि उसकी सदस्यता का लाभ प्राप्त कर सके। एनएचपीसी की सदस्यता से आधारभूत ढांचा संबंधी परियोजानाओं में पूंजी लगाने के लिए सिंडिकेट/ कंसोर्टियम के रूप में विश्व बैंकएडीबीएआईआईबी, ईआईबी, ईबीआरडी, एएफडीबी, एनडीबी, और जीसीएफ (आईएसए के वित्तीय साझेदार) के साथ सहयोग के अवसर उत्पन्न होंगे। एनएचपीसी की पहुँच कम लागत वाले सोलर बॉन्ड कोष तक भी होगी जो आईएसए के नॉलेज पार्टनर जैसे लंदन स्टॉक एक्सचेंज आदि, जो आईएसए के उप-मुख्य पार्टनर हैंद्वारा जुटाया जाएगा। सदस्यता से एनएचपीसी को आईएसए सदस्य देशों के नए बाजारों में नए फ़िनान्सिंग के अवसर प्राप्त होंगे और सदस्य देशों के बाजारों में इसके प्रवेश को आईएसए सुगम बनाएगा।

आईएसए के कॉर्पोरेट सदस्य बनने सेनिकट भविष्य में अन्य देशों में अपनी उपस्थिति दर्ज करने के लिए एनएचपीसी के लिए मार्ग प्रशस्त होगा। एनएचपीसी “आईएसए कॉरपोरेट पार्टनर्स के वार्षिक कॉन्क्लेव में भी शामिल होगी और उसे आईएसए की  नीतियोंकार्यक्रमोंगतिविधियों और कार्यकलापों में भागीदारी करने का अवसर मिलेगा, जिससे इसे  अपनी नीतियों को आगे बढ़ाने अथवा पूर्ण करने अथवा साथ मिलाने का अवसर भी मिलेगा ।       

श्री आर.के. जायसवालकार्यपालक निदेशक (नवीकरणीय ऊर्जा)एनएचपीसी ने इस राशि के योगदान की बैंक एडवाइस 10 जून, 2020 को नई दिल्ली में श्री उपेंद्र त्रिपाठीआईएएसमहानिदेशकइंटरनेशनल सोलर एलायेंस को सौंपा। इस अवसर पर श्री हिमांशु साहा, महाप्रबंधक (नवीकरणीय ऊर्जा), एनएचपीसी और श्री के.एस. पोपलीवरिष्ठ सलाहकारआईएसए भी उपस्थित थे।ऊर्जा की परियोजनाएं अपनी क्षमता में जोड़ेगी ।

Sarkaritel
By Sarkaritel June 10, 2020 18:21

Search the Website

Advertiser’s Logos

Water Conservation

जब भी आप बर्तन धोते हैं तो नल से पानी किसी चीज में पहले इकट्ठा करें, इससे बर्तन धोने के लिए पानी कम लगेगा।

Sarkaritel.com Interview with U P Singh (IAS), Secretary, Ministry of Jal Shakti & Drinking Water & Sanitation by Ameya Sathaye, Publisher & Editor-in-Chief, Sarkaritel.com

HEALTH PARTNER