NHPC awards ISTS grid connected photovoltaic projects aggregating to 1600 MW and Execution of HRT works for Parbati-II Project amidst nationwide lockdown due to COVID-19

Sarkaritel
By Sarkaritel June 3, 2020 16:58


NHPC, India’s premier hydropower company which has diversified its portfolio to include Solar Power business has given Letter of Awards (LOA) to Solar Power Developers for interstate transmission system (ISTS) grid connected photovoltaic projects aggregating to 1600 MW installed capacity. Previously, NHPC had successfully conducted the e-reverse Auction for ISTS Grid Connected Solar PV Project to be set up anywhere in India. As part of the LOA, NHPC shall purchase the power generated from the proposed ISTS- Connected Solar PV Power Project at tariffs of Rs 2.55/- and 2.56/- per unit.

In another development, NHPC awarded the work for “Execution of 1500 metre Head Race Tunnel works for Parbati-II HE Project (Lot PB-2C) to M/s Gammon Engineer and Contactors Pvt. Ltd. for a Contract Price of Rs 211.63 Crore. The 800 MW Parbati-II Hydroelectric Project, located in Himachal Pradesh is a run-of-the-river scheme proposed to harness hydro potential of the river Parbati.

NHPC has successfully completed awarding of the above-mentioned works amidst nationwide lockdown due to COVID-19 pandemic following all guidelines laid down by the Government and optimum use of available resources and manpower.


कोविड-19 के कारण देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान एनएचपीसी द्वारा कुल 1600 मेगावाट की आईएसटीएस ग्रिड कनेक्टेड फोटोवोल्टिक परियोजनाओं के कार्यों और पार्बती- II परियोजना के एचआरटी का निष्पादन कार्य अवार्ड किया गया

 

एनएचपीसी, भारत की अग्रणी जलविद्युत कंपनी जिसने सौर ऊर्जा व्यवसाय को शामिल करते हुए अपने पोर्टफोलियो में विविधीकरण किया है, ने कुल 1600 मेगावाट की संस्थापित क्षमता की अंतर्राज्यीय पारेषण (आईएसटीएस) ग्रिड कनेक्टेड फोटोवोल्टिक परियोजनाओं के लिए सौर ऊर्जा विकासकर्ताओ को लेटर ऑफ़ अवार्ड्स (एलओए) प्रदान किया है । इससे पूर्व, एनएचपीसी ने भारत में कहीं भी स्थापित की जाने वाली आईएसटीएस ग्रिड कनेक्टेड सोलर पीवी परियोजना के लिए ई-रिवर्स ऑक्शन सफलतापूर्वक  आयोजित किया था । एलओए के हिस्से के रूप में, एनएचपीसी  प्रस्तावित  आईएसटीएस- कनेक्टेड सोलर पीवी पावर परियोजना से उत्पादित बिजली रू. 2.55 व रू. 2.56 प्रति यूनिट की दर से खरीदेगी ।

इसके अतिरिक्त, एनएचपीसी ने मैसर्स गैमन इंजीनियर एंड कॉन्टैक्टर्स प्राइवेट लिमिटेड को 211.63 करोड़ रूपए संविदा मूल्य के पार्बती-II जलविद्युत परियोजना (लॉट पीबी -2 सी) के लिए 1500 मीटर हेड रेस टनल कार्यों के निष्पादन हेतु कार्य अवार्ड किया है। हिमाचल प्रदेश में स्थित 800 मेगावाट की पार्बती – II जलविद्युत परियोजना, पार्बती नदी की जलविद्युत क्षमता का दोहन करने के लिए प्रस्तावित एक रन-ऑफ-द-रीवर परियोजना है।

एनएचपीसी ने सरकार द्वारा निर्धारित सभी दिशा-निर्देशों और उपलब्ध संसाधनों एवं जनशक्ति का इष्टतम उपयोग करते हुए  कोविड-19 महामारी के कारण राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बीच उपर्युक्त कार्यों को सफलतापूर्वक पूरा किया है ।

Sarkaritel
By Sarkaritel June 3, 2020 16:58