दिल्ली में जुटेंगे दुनिया भर के जल संरक्षण कर्ता, जल प्रहरी समारोह में आधुनिक तकनीक, नए अविष्कार और भारत में पानी की उपलब्धता पर होगा विमर्श

Newsdesk
By Newsdesk October 6, 2022 19:38

दिल्ली में जुटेंगे दुनिया भर के जल संरक्षण कर्ता, जल प्रहरी समारोह में आधुनिक तकनीक, नए अविष्कार और भारत में पानी की उपलब्धता पर होगा विमर्श


नई दिल्ली। यूरोप के कई शहरों में इन दिनों जहां सूखा व्याप्त है वहीं एशियाई देशों के कई शहर बाढ़ की विभीषिका से जूझ रहे हैं। भारत में मानसून विदाई ले रहा है लेकिन दुनिया के कई बड़े देशों और शहरों के मुकाबले यहां सूखा और बाढ़ को लेकर हालात बेशक संतोषजनक कहे जाएं लेकिन चिंतित करने वाले जरूर हैं। दुनिया के कई जल विशेषज्ञ अब भारत के जल संरक्षण संवर्धन कार्यों को अपने देशों में अपनाने के लिए भारतीय विशेषज्ञों और तकनीक की ओर ताक रहे हैं।

भारत की हर घर जल योजना अफ्रीकी देशों को जहां घर-घर पानी पहुंचाने के लिए आकर्षित करती है तो वही सरोवर पुनर्जीवित करने वाले कार्यक्रम भी दुनिया के कई देशों को आकर्षित कर रही हैं।

इन सभी विषयों पर अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों को एक मंच पर लाने व नवीन तकनीक के आदान प्रदान, तकनीक पर जल प्रहरी समारोह के सिंपोजियम में परिचर्चा होगी। भारत सरकार के जल शक्ति मंत्रालय के संयुक्त तत्वावधान में अंतरराष्ट्रीय जल प्रहरी समारोह इस वर्ष, दिसम्बर माह में दिल्ली के अम्बेडकर सभागार में आयोजित किया जा रहा है। यह जानकारी देते हुए सरकारी टेल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमेया साठे ने बताया जल प्रहरी समारोह में भारत सरकार के जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत जहां मुख्य अतिथि होंगे वही यूके, स्वीडन, डेनमार्क, इजरायल, नामीबिया, बोत्सवाना, कीनिया, बोस्निया, इरिट्रिया और इंग्लैंड सहित कई देशों के राजदूतों व अंतरराष्ट्रीय जल संरक्षणकर्ताओँ, विशेषज्ञों, वैज्ञानिकों को आमंत्रित किया गया है। यह विशेषज्ञ जल उपलब्धता बढ़ाने के लिए दुनिया भर में अपनाई जा रही आधुनिक तकनीक, जल आत्मनिर्भर भारत की उपलब्धियों, चुनातियों पर विमर्श करेंगे।

भारत को जल आत्मनिर्भर बनाने के प्रयासों व विश्व के देशों को बाढ़ व सूखे से बचाने के लिए आयोजित सिम्पोजियम में दुनिया भर के विशेषज्ञ विमर्श करेंगे। समारोह के संयोजक अनिल सिंह ने बताया कि धरती पर कहीं जल संकट न हो इसी उद्देश्य से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जल संरक्षण संवर्धन का कार्य करने वाले वैज्ञानिकों, विशेषज्ञों, नई तकनीक के अविष्कार करने वालों को भी आमंत्रित किया गया है। भारत में जल संरक्षण व संवर्धन का कार्य करने वाले सभी जल प्रहरियों को कार्यक्रम में विशेष तौर पर आमंत्रित कर सम्मानित किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इससे पहले देश भर के सैंकड़ों जल संरक्षण कर्ताओँ को सम्मानित किया जा चुका है और इस वर्ष इन लोगों ने लाखों लीटर पानी बचाया है, कई सरोवर, जल स्रोत पुनर्जीवित किये हैं। जल प्रहरी सम्मान समारोह के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

Newsdesk
By Newsdesk October 6, 2022 19:38