SHARED HERITAGE OF INDIA & VIETNAM IS PERFECT LAUNCH PAD FOR ENHANCED COOPERATION IN TRADE AND INVESTMENT: LOK SABHA SPEAKER

Sarkaritel
By Sarkaritel April 21, 2022 18:40

SHARED HERITAGE OF  INDIA & VIETNAM IS PERFECT LAUNCH PAD FOR ENHANCED COOPERATION IN TRADE AND INVESTMENT: LOK SABHA SPEAKER


Hanoi; 21 April, 2022: Indian Parliamentary Delegation led by Lok Sabha Speaker, Om Birla, which is visiting Vietnam and Cambodia from 19 to 25 April 2022, met Party Secretary of Ho Chi Minh city, Ngyuen Van Nen, today.

Underlining that Vietnam and India have remarkable commonality on a host of issues, Birla observed that the two countries have enjoyed a long tradition of friendship and cooperation despite fluctuations in dynamics of international relations. This reflects the maturity of the relationship and importance of the strong ties between the two countries at the regional and global levels, said Birla.

Mentioning that both countries are facing similar challenges and share similar developmental perspectives, Birla suggested that their bilateral engagement should further expand to areas such as climate change, sustainable development, health care and digital economy. Referring to the need for enhanced cooperation in defense sector, Birla was of the view that the growing defense cooperation in areas such as defense industry, maritime security, capacity building programmes and UN peacekeeping has given great momentum to bilateral relationship. He hoped that bilateral defense ties would play a major role in maintenance of  peace and stability of our Indo-Pacific region.


Ngyuen Van Nen lauded India’s support to Vietnam during Covid pandemic and supply of vaccines, medicines and medical equipment. He also requested Birla for efforts in the direction of commencing direct flight between Ho Chi Minh city and India. Birla assured that he will convey his sentiment to the Indian government.

Speaking on parliamentary cooperation, Lok Sabha Speaker said that Parliamentary exchanges have been cornerstone of bilateral relations as people’s representatives exchange ideas with each other in a purposive manner during such exchanges. He added that as India and Vietnam are celebrating 50th anniversary of diplomatic relations this year, this is an opportunity for to further develop the relationship and deepen bilateral cooperation.

Later, Birla attended a community event organized by the Indian Embassy in Vietnam.


भारत और वियतनाम की साझा विरासत व्यापार और निवेश में सहयोग बढ़ाने के लिए एक सही लॉन्च पैड: लोकसभा अध्यक्ष

हनोई; 21 अप्रैल, 2022: लोकसभा अध्यक्ष श्री ओम बिरला के नेतृत्व में भारतीय संसदीय प्रतिनिधिमंडल, जो 19 से 25 अप्रैल, 2022 तक वियतनाम और कंबोडिया का दौरा कर रहा है, हो ची मिन्ह  शहर के पार्टी सचिव, एच.ई. श्री न्ग्युएन वान नेन से आज मुलाकात किये ।

यह रेखांकित करते हुए कि वियतनाम और भारत में कई मुद्दों पर उल्लेखनीय समानता है, श्री बिरला ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्थिति में बदलाब के बाबजूद दोनों देशों में दोस्ती और सहयोग की एक लंबी परंपरा रहा  है। यह क्षेत्रीय और वैश्विक स्तर पर भारत और वियतनाम के बीच संबंधों की परिपक्वता और मजबूत संबंधों के महत्व को दर्शाता है, श्री बिरला ने कहा।

यह उल्लेख करते हुए कि दोनों देश समान चुनौतियों का सामना कर रहे हैं और समान विकासात्मक दृष्टिकोण साझा करते हैं, श्री बिरला ने सुझाव दिया कि द्विपक्षीय सहयोग को जलवायु परिवर्तन, सतत विकास, स्वास्थ्य देखभाल और डिजिटल अर्थव्यवस्था जैसे क्षेत्रों में और विस्तारित किया जाना चाहिए। रक्षा क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने की आवश्यकता का उल्लेख करते हुए, श्री बिरला ने विचार रखा की रक्षा उद्योग, समुद्री सुरक्षा, क्षमता निर्माण कार्यक्रमों और संयुक्त राष्ट्र शांति स्थापना जैसे क्षेत्रों में बढ़ते रक्षा सहयोग ने द्विपक्षीय संबंधों को काफी गति प्रदान की है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि द्विपक्षीय रक्षा संबंध हमारे हिंद-प्रशांत क्षेत्र की शांति और स्थिरता बनाए रखने में एक प्रमुख भूमिका निभाएंगे।

श्री न्ग्युएन वैन नेन ने कोविड महामारी के दौरान वियतनाम को भारत के समर्थन और टीकों, दवाओं और चिकित्सा उपकरणों की आपूर्ति की सराहना की। उन्होंने श्री बिरला से हो ची मिन्ह शहर और भारत के बीच सीधी उड़ान शुरू करने की दिशा में प्रयास करने का भी अनुरोध किया। श्री बिरला ने आश्वासन दिया कि वह भारत सरकार को उनकी भावना से अवगत कराएंगे।

संसदीय सहयोग पर बोलते हुए, लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि संसदीय आदान-प्रदान द्विपक्षीय संबंधों की आधारशिला रहा है क्योंकि इस तरह के आदान-प्रदान के दौरान जनप्रतिनिधि एक-दूसरे के साथ उद्देश्यपूर्ण तरीके से विचारों का आदान-प्रदान करते हैं। उन्होंने कहा कि भारत और वियतनाम इस वर्ष राजनयिक संबंधों की 50वीं वर्षगांठ मना रहे हैं, यह संबंधों को और विकसित करने और द्विपक्षीय सहयोग को गहरा करने का एक अवसर है।

बाद में, श्री बिरला ने वियतनाम में भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित एक सामुदायिक कार्यक्रम में भाग लिया।

Sarkaritel
By Sarkaritel April 21, 2022 18:40