Minister of Petroleum & Natural Gas and Steel, Dharmendra Pradhan dedicated HPCL’s VVSPL capacity Expansion Project to Nation

Sarkaritel
By Sarkaritel November 12, 2019 12:37

Minister of Petroleum & Natural Gas and Steel, Dharmendra Pradhan dedicated HPCL’s VVSPL capacity Expansion Project to Nation


12.11.2019

Visakh

HPCL’s Visakh – Vijayawada – Secunderabad Pipeline (VVSPL) of 572 Km length with an installed capacity of 5.38 MMTPA has been recently expanded to 8 MMTPA with construction of 3 intermediate booster pump stations at MalleBhupalaPatnam near Narsipatnam (Visakha district, AP), Jeelakarragudem near Eluru (West Godavari District, AP) and Bogaram (Yadagiri district, Telangana). The project was completed within time and approved cost of Rs.407 Crores. This low cost expansion has been done to assist evacuation of ongoing Visakh Refinery Expansion project (from 8.3 MMTPA to 15 MMTPA) additional production.

During the visit of HPCL’s Visakh Refinery on 09th November 2019, Shri Dharmendra Pradhan, Minister of Petroleum & Natural Gas and Steel, Government of India, has dedicated the project to the nation. The remote starting of these 3 station pumps from Visakh Master Control station and simulation display ofadvanced Pipeline Intrusion Detection System (PIDS) installed in HPCL pipelines are the notable features reviewed by the Hon’ble Minister.  This new PIDS technology will provide pipeline security with 24×7 automated surveillance system, and thus will enhance the safety and integrity of pipeline operations.


माननीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस एवं स्‍टील मंत्री, श्री धमेंद्र प्रधान ने एचपीसीएल की वीवीएसपीएल क्षमता विस्‍तार परियोजना राष्‍ट्र को समर्पित की

12.11.2019

विशाख

एचपीसीएल की विशाख-विजयवाड़ा-सिकंदराबाद पाइपलाइन (वीवीएसपीएल) जिसकी लंबाई 572 कि.मी. तथा स्‍थापित क्षमता 5.38 एमएमटीपीए है, उसका नरसीपट्टनम (विशाख, जिला, आंध्र प्रदेश) के पास माले भूपाला पट्टनम में,एलूरू (पश्चिम गोदावरी जिला,आंध्र प्रदेश) के पास जीलाकारागुडेम और बोगाराम (यादगिरी जिला, तेलंगाणा) में 3 इंटरमीडिएट बूस्‍टर पम्‍प स्‍टेशन के साथ हाल ही में 8 एमएमटीपीए तक क्षमता विस्‍तार किया गया है। परियोजना समय पर और   407 करोड़ रुपये की अनुमोदित लागत से पूरी हुई। यह निम्‍न लागत विस्‍तार वर्तमान विशाख रिफाइनरी विस्‍तार परियोजना (8.3 एमएमटीपीए से 15 एमएमटीपीए) के अतिरिक्‍त उत्‍पाद रिक्तिकरण में सहायता हेतु किया गया है।

 

श्री धमेंद्र प्रधानजी, माननीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस एवं स्‍टील मंत्री, भारत सरकार ने हाल ही में 9 नवम्‍बर,2019 को एचपीसीएल की विशाख रिफाइनरी के दौरे के दौरान, इस परियोजना  को राष्‍ट्र को समर्पित किया। विशाख मास्‍टर कंट्रोल स्‍टेशन से इन 3 स्‍टेशन पम्‍पों की रिमोट शुरूआत और एचपीसीएल पाइपलाइनों में स्‍थापित आधुनिकतम पाइपलाइन इंट्रूसन डिटेक्‍शन सिस्‍टम (पीआईडीएस) के सिम्‍यूलेशन डिस्‍प्‍ले की उल्‍लेखनीय विशेषताओं की माननीय मंत्रीजी ने समीक्षा की। यह नई पीआईपीएस प्रौद्योगिकी 24×7 स्‍व:चालित निगरानी प्रणाली द्वारा पाइपलाइन को सुरक्षा उपलब्‍ध कराती है और इस प्रकार पाइपलाइन परिचालन की सुरक्षा तथा एकबध्‍दता बढ़ाती है।

Sarkaritel
By Sarkaritel November 12, 2019 12:37