World Bank Team Survey Self Help Group (SHG) in PNB

Sarkaritel
By Sarkaritel August 23, 2016 15:41

World Bank Team Survey Self Help Group (SHG) in PNB


23pnb_meet 

The World Bank Team Led by Mr. Amit Arora, a financial inclusion expert visited Punjab National Bank’s branches in Alwar District  to survey Self Help Group financing.  The World Bank praised the work done by PNB in this direction.

The team discussed about the process adopted by Punjab National Bank, documentation and NGOs working in the field.  The team also listened the experience of beneficiaries regarding financing and also studied the effects of this on their family.

In India, in the field of financing to self help groups there has been tremendous revolution. In view of the efforts made by the Punjab National Bank in this field, World Bank has chosen three States i.e. Rajasthan, Bihar and Madhya Pradesh. The efforts made by Punjab National Bank in  Alwar, Rajasthan has been selected as a pilot project for detailed, intensive and organized study.

 

In this process, the team has taken information about the formation of self help groups from national rural livelihood mission and non government organization.  The team also discussed with the funded group members of the bank and with support to their family by financing them. They also jotted down their problems and suggestions.

The Reserve Bank of India extending their support to World Bank in this study.  In India work done over the years in the field of financial inclusion get recognition on world arena.

 


 

 

पंजाब नैशनल बैंक में विश्‍व बैंक द्वारा स्‍वयं सहायता समूहों का सर्वे

श्री अमित अरोड़ा, वित्‍तीय समावेशन विशेषज्ञ के नेतृत्‍व में विश्‍व बैंक के दल द्वारा अलवर जिले की पंजाब नैशनल बैंक की  शाखाओं में  स्वयं सहायता समूह के अंतर्गत किए जा रहे वित्त संबन्धी  सर्वे किया। विश्‍व बैंक ने पंजाब नैशनल बैंक द्वारा इस  दिशा में किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की है।

दल ने पंजाब नैशनल बैंक द्वारा इस संबंध में अपनाई जा रही प्रक्रिया, दस्‍तावेजीकरण और  फील्‍ड में कार्यरत गैर-सरकारी संगठनों से भी वार्ता की। साथ ही दल ने स्‍वयं सहायता समूहों के हिताधिकारियों से भी इस वित्‍तपोषण के अनुभवों को सुना एवं उनके परिवार पर इसके प्रभाव आदि का अध्‍ययन किया।

भारत में स्‍वयं सहायता समूहों को वित्‍तपोषण के क्षेत्र में जबर्दस्‍त क्रांति देखी गई है। पंजाब नैशनल बैंक द्वारा इस क्षेत्र में किए जा रहे विशेष प्रयासों को देखते हुए विश्‍व बैंक ने देशभर के तीन राज्‍यों राजस्‍थान, बिहार एवं मध्‍य प्रदेश को चुना। राजस्‍थान के अलवर क्षेत्र में पंजाब नैशनल बैंक द्वारा विस्‍तृत, गहन एवं संगठित प्रयासों को इस अध्‍ययन हेतु पायलट प्रोजेक्‍ट के रुप में चुना गया।

इसी क्रम में दल ने राष्‍ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन एवं गैर सरकारी संगठन से स्‍वयं सहायता समूह के गठन की प्रक्रिया की जानकारी ली। दल ने बैंक द्वारा वित्‍त पोषित समूह सदस्‍यों से भी वार्ता की एवं वित्‍तपोषण से उनके परिवार के आर्थिक उत्‍थान में सहयोग के साथ उनकी समस्‍याओं एवं सुझावों को भी नोट किया।

इस अध्‍ययन में भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा विश्‍व बैंक को सहायोग दिया जा रहा है। भारत में गत वर्षों में वित्‍तीय समावेशन के क्षेत्र में किए गए कार्य को विश्‍व फलक पर इस अध्‍ययन द्वारा मान्‍यता मिली है।

 

Sarkaritel
By Sarkaritel August 23, 2016 15:41